गाय को रोटी खिलाने में अगर की ये मामूली गलती, तो पछताएंगे पूरी जिंदगी

loading...

शास्त्रों और भारतीय समाज में गाय को सर्वोच्च स्थान दिया गया है, ऐसे में गाय को रोटी खिलाने का परंपरा तो सदियों से चली आ रही है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर गाय को कौन सी और कैसी रोटियां खिलाने से बचना चाहिए? अगर नहीं जानते हैं तो हमारी इस रिपोर्ट को आखिर तक पढ़े। जी हां, अगर आप भी घरेलू परेशानियों से परेशान है तो इससे छुटकारा पाने के लिए आपको ये जानना जरूरी है कि आखिर गाय को कैसी रोटी खिलानी चाहिए और कैसी नहीं?

हिंदू धर्म में पूजा-पाठ को लेकर विशेष महत्व दिया गया है यहां सिर्फ देवी-देवाओं की ही आस्था नहीं की जाती है बल्कि कुछ जानवरों को भी देवी-देवताओं की तरह पूजा जाता है. जब किसी जानवर को ईश्वर से जोड़ा जाता है जो सबसे पहले गाय का नाम आता है. शास्त्रों में गाय को सर्वोच्च दर्जा दिया गया है. ऐसा माना जाता है कि गाय सभी माताओं का रूप होती है इसलिए गाय का दूध, गोमूत्र और गोबर को पूजा में शामिल किया जाता है इसके अलावा ज्यादातर घरों में सुबह-शाम पहली रोटी गाय को खिलाई जाती है. गाय को रोटी खिलाने से पुण्य की तो प्राप्ति होती है लेकिन अगर आप गाय को इस तरह से रोटी खिला रहे हैं तो पाप के भागीदार बन सकते हैं.

गाय को रोटी खिलाने से लाभ

गाय को रोटी खिलाने से घर में सुख-शांति बनी रहती है और हमेशा ईश्वर की कृपा बरसती रहती है. कोई बुरी बांधा आने से टल जाती है. इतना ही नहीं, बताया जाता है कि जिस घर में गाय की सेवा की जाती है वहां कभी कोई परेशानी नहीं भटकती. अक्सर घरों में गाय को रोटी तो खिलाई जाती है लेकिन ठीक ढंग से नहीं खिलाई जाती है जिससे उनके परिवार को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है.

Loading...

गाय को बासी रोटी खिलाने से गाय का अपमान होता है

घर में महिलाएं रोटी बनाकर रख देती है और घंटों बाद गाय को खिलाने जाती हैं. उस बीच कभी-कभी ऐसा भी होता है कि घर का कोई व्यक्ति खाना खाने लगता है जिससे रोटी बासी हो जाती है और देर तक रखी इस रोटी को गाय को खिलाना बुरा माना जाता है. अगर आप गाय को रोटी खिलाते हैं तो ध्यान रखें की ताजी और घर के सदस्यों के खाने से पहले ही खिलाएं.

कभी खाली रोटी न खिलाएं

वहीं दूसरी तरफ ध्यान रखें कि गाय को कभी खाली रोटी नहीं खिलाना चाहिए. गाय को रोटी खिलाते वक्त उस पर कुछ चीनी दाने या फिर सब्जी रखकर खिलाएं. ऐसे करने से गाय के रूप में साक्षात माता का आर्शीवार्द प्राप्त होता है. कई लोगों ने गाय की सेवा करके सुखों की प्राप्ती की है अगर आपको भी कोई परेशानी है तो आप आज से गाय की सेवा करना शुरु कर दीजिए.

loading...
Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.