पीने के बाद शराबी क्यों बोलने लगते है अंग्रेज़ी, साइंटिफिक वजह जानकर होगी गजब हैरानी

loading...

शराब ऐसी चीज़ है, जिसके सेवन से इंसान नशे में हो जाता है। नशे में वह क्या करता है, उसे भी इसका होश नहीं रहता है। कुछ लोग शराब ग़म भुलाने के लिए पीते हैं तो कुछ लोग ख़ुशी में पीते हैं। कुछ लोगों का एक ऐसा भी समूह होता है जो किसी भी मौक़े पर शराब पीते हैं। उन्हें पीने से मतलब होता है। कोई भी मौक़ा हो बस शराब पीने से मतलब होता है।

शराब के बारे में लोग कहते हैं कि ये अच्छी चीज़ नहीं होती है। ऐसा कहा जाता है कि शराब पीने वाला सबकुछ बर्बाद कर देता है। हालाँकि शराब पीने से लोग केवल अपना नुक़सान ही नहीं करते हैं, कई लोगों को शराब पीने के बाद फ़ायदा भी होता है। अक्सर आपने लोगों को शराब पीने के बाद अजीबो-ग़रीब बातें करते हुए देखा होगा। आपके मन में भी उन्हें देखकर यही ख़याल आता होगा कि आख़िरे ये ऐसा क्यों करते हैं। कुछ लोग तो शराब पीने के बाद अंग्रेज़ी भी बोलने लगते हैं।

शोध के लिए छात्रों को पिलाया गया पानी और शराब:

आपने अक्सर किसी पार्टी में शराब पीने के बाद लोगों को अंग्रेज़ी बोलते हुए देखा होगा। जिन लोगों को थोड़ी-बहुत अंग्रेज़ी आती है वो शराब पीने के बाद आख़िर कैसे इतनी अच्छी अंग्रेज़ी बोल लेते हैं, यह देखकर हैरानी होती है। हाल ही में हुए एक शोध से यह बात सामने आयी है कि सीमित मात्रा में अल्कोहल का सेवन करने से नई भाषा बोलने की सम्भावनाएँ बढ़ जाती है। जानकारी के अनुसार हालैंड की एक यूनिवर्सिटी के छात्रों ने कुछ ही दिन पहले डच भाषा बोलना और लिखना सीखा है। एक शोध के लिए इस 50 छात्रों में से किसी को शराब पिलाया गया तो किसी को पानी पिलाया गया।

Loading...

पानी पीने वाले छात्रों के प्रदर्शन में नहीं था कोई अंतर:

अध्ययन के दौरान इस छात्रों को एक व्यक्ति के साथ 2-2 मिनट तक डच भाषा में बात करनी थी। इसके लिए दो वालंटियर्स को बुलाया गया जिन्हें डच भाषा अच्छे से बोलनी आती थी। उन्हें यह नहीं बताया गया कि किस छात्र को शराब पिलाया गया है और किसको साफ़ पानी पिलाया गया है। वालंटियर्स को सभी से बात करके रेटिंग देने के लिए कहा गया। वालंटियर्स ने सभी लोगों से बात की और जो नजीते सामने आए वह हैरान करने वाले था। जिन छात्रों ने केवल पानी का सेवन किया था उनके प्रदर्शन में किसी प्रकार का कोई ख़ास अंतर देखने को नहीं मिला।

ज़्यादा शराब के सेवन से हो सकता है असर उल्टा:

जबकि वहीं जिन छात्रों ने शराब का सेवन किया था, उनमें ग़ज़ब का सुधार देखा गया। उनकी प्रननसिएशन और फ़्लुएंसी पानी पीने वाले छात्रों से बेहतर थी। शराब का सेवन करने वाले छात्रों ने सभी उत्तर सही-सही दिए। इस शोध से यह बात साबित हो गयी कि शराब का सेवन करने से विदेशी भाषा बोलने में मदद मिलती है, लेकिन इसका ज़्यादा सेवन करने से असर उल्टा भी हो सकता है। तो अब अगली बार अगर आपको किसी से अंग्रेज़ी में बात करनी हो तो थोड़ी मात्रा में शराब का सेवन करें और फिर शुरू कर दें अंग्रेज़ी बोलना।

loading...
Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.