लाल किला हिंसाः लाल किला हिंसा मामले में 2 और आरोपियों को धर दबोचा, ये हैं आरोप!

loading...

26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के नाम पर दंगा करने वाले आरोपियों की पुलिस लगातार धर पकड़ करने में लगी हुई है. अब तक अलग अलग जगह दबिश के दौरान पुलिस ने कई आरोपियों को पकड़ भी लिया है जिन पर एक लाख से लेकर 50 हजार तक का इनाम था. जिनमें मुख्य आरोपी दीप सिद्धू, सुखदेव सिंह समेत कई आरोपी शामिल हैं. इसी बीच पुलिस को लाल किल की हिंसा मामले में एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है.

दरअसल दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने जम्मू से 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक जम्मू के रहने वाले मोहिंदर सिंह खालसा और मनदीप सिंह ने 26 जनवरी को लाल किले में हुई हिंसा में अहम भूमिका निभाई थी.

दोनों आरोपी जम्मू के रहने वाले हैं. मोहिंदर सिंह को यूनाइडेट कश्मीर फ्रंट का अध्यक्ष बताया जा रहा है. जम्मू कश्मीर पुलिस की मदद से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. आरोपियों को दिल्ली लाया जा चुका है. अब इन्हें अदालत में पेश कर दिल्ली पुलिस रिमांड पर लेगी.

इससे पहले लाल किला हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने एक और आरोपी जसप्रीत सिंह को गिरफ्तार किया था. 29 साल का आरोपी जसप्रीत दिल्ली के स्वरूप नगर का रहने वाला है. जसप्रीत लाल किले पर आरोपी मनिंदर सिंह के साथ खड़ा दिख रहा है और दोनों हाथों से तलवार लहरा रहा है.

Loading...

पुलिस एफआईआर के मुताबिक, इसके बाद वो लाल किले के एक गुम्बद पर भी चढ़ा. उसपर आरोप है कि लाल किले पर लगी स्टील की रोड लेकर लोगों को भड़का रहा था. बता दें कि दिल्ली में किसानों के ट्रैक्टर रैली के दौरान 26 जनवरी को कई जगहों पर हिंसा हुई थी. खुद को किसान बताने वाले कई लोग लाल किला परिसर में दाखिल हो गए थे और यहां जमकर बवाल काटा था. जहां इन्होंने पुलिसकर्मीयों पर हथियारों से जानलेवा हमला किया तो वहीं लाल किले पर तिरंगे झंडा का अपमान करते हुए वहां धार्मिक झंडा लगा दिया था. ये सब देखकर किसान संगठनों ने इससे खुद को अलग कर लिया था.

लेकिन पुलिस ने साफ किया कि इसमें किसान संगठनों का भी हाथ था. हाल ही में पुलिस ने जिन पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की है उसमें भी कई किसान नेताओं के नाम सामने आ रहे हैं. जिन पर जल्द ही कार्रवाई होगी. दिल्ली पुलिस इस मामले में अब तक करीब 125 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. इसके अलावा लाल किले पर जिन दंगाइयों ने जमकर उत्पात मचाया था जो अब भी फरार चल रहे हैं पुलिस ने उनकी भी तस्वीरें जारी कर दी है. कुलमिलाकर किसानों के भेष में बवाल काटने वाले दंगाई कानूनी शिकंजे से अब नहीं बच पाएंगे. उन्हें किए की सजा तो जरूर मिलेगी.

loading...
Loading...