व्हाट्सऐप ने दी सफाई, कहा- दोस्तों और फैमिली के साथ मेसेजिंग पूरी तरह सुरक्षित

loading...

मेसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सऐप ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी में कुछ बदलाव किए हैं और इन्हें स्वीकार करने के लिए यूजर्स को 8 फरवरी, 2021 तक का वक्त दिया गया है। नई पॉलिसी में कहा गया है कि व्हाट्सऐप यूजर्स का डाटा फेसबुक के साथ शेयर करेगा और जिसके बाद ढेरों यूजर्स व्हाट्सऐप छोड़कर दूसरे मेसेजिंग ऐप्स डाउनलोड कर रहे हैं। व्हाट्सऐप ने पूरे मामले पर सफाई दी है और यूजर्स को भरोसा दिलाया है कि उनके मेसेजेस पूरी तरह सुरक्षित हैं।

दूसरी बार यूजर्स को दी सफाई

व्हाट्सऐप ने कहा है कि नई प्राइवेसी पॉलिसी में होने वाले बदलावों की वजह से ‘दोस्तों और परिवारवालों को भेजे जाने वाले मेसेजेस की प्राइवेसी पर कोई असर नहीं पड़ेगा।’

क्रॉस-प्लेटफॉर्म मेसेजिंग और वॉइस ओवर IP सर्विस प्रोवाइडर व्हाट्सऐप की ओर से इससे पहले भी सफाई दी जा चुकी है।

व्हाट्सऐप ने इससे पहले कहा था कि पॉलिसी में हुए बदलावों का असर केवल व्हाट्सऐप बिजनेस अकाउंट यूजर्स पर पड़ेगा।

ट्वीट

दोहराई एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन की बात

फेसबुक की ओनरशिप वाली मेसेजिंग सर्विस ने अपने आधिकारिक अकाउंट से ट्वीट कर कहा कि यूजर्स के प्राइवेट मेसेज पूरी तरह सुरक्षित हैं।

व्हाट्सऐप ने ट्वीट में लिखा, “हम कुछ अफवाहों का जवाब देना चाहते हैं और 100 प्रतिशत साफ कर देना चाहते हैं कि हम आपके प्राइवेट मेसेजेस एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन के साथ सुरक्षित रखेंगे। हमारी प्राइवेसी पॉलिसी में हुआ बदलाव आपके परिवार या दोस्तों को भेजे गए मेसेजेस की प्राइवेसी पर असर नहीं डालता।”

ट्विटर पोस्ट

ट्वीट कर दी सफाई

व्हाट्सऐप नहीं जुटाता यह डाटा

कंपनी ने एक बताया है कि वह यूजर्स का कौन सा डाटा नहीं जुटाती।

व्हाट्सऐप या फेसबुक यूजर्स के प्राइवेट मेसेजेस नहीं देख सकते या कॉल्स नहीं सुन सकते।

यूजर्स किसे मेसेज या कॉल कर रहे हैं, व्हाट्सऐप इसका रिकॉर्ड नहीं रखता।

व्हाट्सऐप या फेसबुक यूजर्स की शेयर्ड लोकेशन नहीं देख सकते और व्हाट्सऐप यूजर्स के कॉन्टैक्ट्स फेसबुक के साथ शेयर नहीं करता।

व्हाट्सऐप ग्रुप्स प्राइवेट हैं और यूजर्स मेसेज डिसअपियर करने के अलावा अपना डाटा डाउनलोड कर सकते हैं।

पॉलिसी

नई पॉलिसी स्वीकार करना जरूरी

मेसेजिंग ऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी 8 फरवरी, 2021 तक स्वीकार ना करने पर यूजर्स के व्हाट्सऐप अकाउंट्स डिलीट हो सकते हैं।मौजूदा यूजर्स को नई पॉलिसी स्वीकार करने या फिर अकाउंट डिलीट करने के दो विकल्प दिए जा रहे हैं।बेशक व्हाट्सऐप अपने यूजर्स का डाटा के सुरक्षित होने का भरोसा दिला रहा हो लेकिन ढेरों यूजर्स दूसरी मेसेजिंग सर्विसेज का इस्तेमाल शुरू कर रहे हैं। कंपनी के पास अब अपना मौजूदा यूजरबेस बचाने की चुनौती है।

loading...
Loading...