व्हाट्सऐप में जल्द आएगा रीड लेटर फीचर, नहीं मिलेगा चैट आर्काइव करने का ऑप्श

loading...

इस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप में यूजर्स को काफी कुछ बदलाव देखने को मिल रहे हैं। अभी हाल ही में कंपनी ने यूजर्स के लिए डिसअपीयरिंग मैसेज और शॉपिंग बटन सहित कई फीचर्स ऐड किए हैं। अब कंपनी एक और नया फीचर लाने की तैयारी कर रही है। इस फीचर का नाम रीड लेटर (Read Later) है। इसे आर्काइव फीचर की जगह लाया जाएगा। रीड लेटर आर्काइव फीचर को रिप्लेस करेगा। इसके आने के बाद यह गायब हो जाएगा।

अभी चल रही टेस्टिंग

 

फिलहाल यह फीचर बीटा टेस्टिंग के दौर में है और कुछ यूजर्स को टेस्टिंग के दौरान इसे उपयोग करने का मौका भी मिल रहा है। इस फीचर के तहत यूजर किसी चैट को रीड लेटर के तौर पर सेव कर सकेंगे और उसे बाद में पढ़ पाएंगे। सबसे अच्छी बात है कि किसी भी चैट को रीड लेटर के तौर पर सेव रखने पर उसमें नया मैसेज आने से नोटिफिकेशन नहीं मिलेगी।

नोटिफिकेशन

आर्काइव फीचर में मिलती है नोटिफिकेशन

व्हाट्सऐप में अभी आर्काइव फीचर से चैट को सेव रख सकते हैं, लेकिन जैसे ही उस कॉन्टैक्ट में नया मैसेज आता है। वैसे ही उसकी नोटिफिकेशन आ जाती है।

हालांकि, रीड लेटर फीचर से यूजर अपने चैट बॉक्स में किसी भी चैट को सेव रख सकते हैं या तुरंत उसका रिप्लाई नहीं करना चाहते तो बाद में कर सकते हैं।

यूजर जब तक रीड लेटर फीचर को डिसेबल नहीं करेगा, तब तक उसे उस चैट के लिए नोटिफिकेशन नहीं मिलेगा।

फायदा

किन लोगों के लिए है फायदेमंद?

यह उन लोगों के लिए काफी फायदेमंद है, जो किसी कॉन्टैक्ट और ग्रुप से आने वाले मैसेज का रिप्लाई नहीं देना चाहते और वे उसे ब्लॉक भी नहीं करना चाहते हैं।

साथ ही उन्हें उनसे आने वाली नोटिफिकेशन भी प्राप्त नहीं करनी है।

Loading...

ऐसे यूजर उस चैट को रीड लेटर फीचर की मदद से आसानी से इग्नोर कर पाएंगे और उन्हें इससे कोई दिक्कत भी नहीं होगी।

जल्द ही यह फीचर सभी यूजर्स के लिए जारी किया जा सकता है।

शॉपिंग बटन भी हुआ ऐड

अभी हाल ही में व्हाट्सऐप में शॉपिंग बटन ऐड हुआ है। इसकी मदद से अब यूजर्स आसानी से शॉपिंग कर पाएंगे।

उन्हें बिजनेस अकाउंट में यह ऑप्शन मिलेगा।

इस फीचर के अलावा अब यूजर्स को जल्द ही व्हाट्सऐप में पेमेंट की सुविधा भी मिलने वाली है।

नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) की तरफ से इसके लिए अनुमति मिल गई है।

इसके अलावा भी कंपनी यूजर्स को कई सुविधाएं दे रही है।

loading...
Loading...