शूटिंग पर चाय मांगे ‘गब्बर’ लेकिन मिली नहीं, अगले दिन सेट पर बंधी मिली भैंस

एक ज़माना था जब बॉलीवुड में रिश्तों की कदर होती थीं लोग एक दुसरे के लिए खड़े रहते थे | शूटिंग के दौरान अब उस समय के ऐसे किस्से सुनने को मिलते हैं जिसे सुनकर काफी सुकून मिलता हैं और चेहरे पर एक छोटी से मुस्कान निखर जाती हैं | इन्ही बॉलीवुड के कलाकारों में से एक ऐसे महान और हंसमुख किस्म के इंसान थे अमजद खान साहब जो सेट पर सभी को अपनी बात और मज़ाक से व्यस्त रखते थे |

26amjad-khan8

अपने बीस साल के फ़िल्मी करियर में उन्होंने १३० से भी ज़्यादा फिल्में की, कभी भाई बनकर तो कभी दोस्त बनकर | लेकिन जिस फिल्म ने उन्हें रातो-रात सुपरस्टार बना दिया था उस फिल्म का नाम हैं “शोले” |

Loading…

amjad-khan

शोले में जब उन्हें डाकू गब्बर सिंह का रोल मिला तो वो बहुत खुश हुए लेकिन शूटिंग के पहले दिन वो अपने किरदार में सही तरीक से घुस ना सकें और निर्देशक रमेश सिप्पी ने उन्हें डांट दिया | इस बात से अमजद खान काफी बेचैन हो गए और पूरी रात सो नहीं सकें | लेकिन अगले दिन जब वो सेट पर पहुंचे और जिस तरह से उन्होंने डायलाग बोले उसे देख कर पूरी टीम ने खड़े होकर तालिया बजाई और शोले का गब्बर सिंह आज लोगो की जुबां पर चढ़ गया हैं |

Loading...
amjad

दिल के बड़े साफ़ और मज़ाकियाँ किस्म के इंसान अमजद खान चाय पीने के बड़े शौक़ीन थे | शौक ऐसा की वो दिन में ३० से ३५ कप चाय पी जाते थे | उन्हें शूटिंग के दौरान हर १५-२० के बाद चाय की तलब लग जाती थीं | एक दिन जब उन्होंने शूटिंग के दौरान चाय माँगा और नहीं मिली तो पूछे जाने पर पता चला की दूध ख़तम हो गया हैं | फिर क्या दुसरे दिन अमजद खान साहब एक हट्टी – कट्टी भैंस खरीद लाएं और कहाँ मुझे शूटिंग में परेशानी नहीं आनी चाहिए और चाय लगातार मिलनी चाहिए |

10

लेकिन एक हादसे ने इस महान कलाकार की ज़िन्दगी बदल कर रख दी | फिल्म शोले की रिलीज़ के बाद वो अपनी अगली फिल्म “दी ग्रेट गैम्बलर” का हिस्सा बनने के लिए गोवा जा रहे थे लेकिन बीच रास्ते में ही उनकी कार का एक्सीडेंट हो गया | एक्सीडेंट इतना बड़ा था की उनकी १३ पसलियां टूट गयी और गाडी की स्टेरिंग अंदर घुसने की वजह से लीवर में भी गहरी चोंट आयी |

4

इस एक्सीडेंट के बाद वो व्हीलचेयर पर आ गए और दवा खाने के वजह से उनका वज़न काफी बढ़ गया था | इसके बाद उनका करियर ढलान पर पहुंच गया | ऐसे में उनके करीबी दोस्त अमिताभ बच्चन ने उनके परिवार की काफी मदद की और अपनी दोस्ती निभाई |

2

एक्सीडेंट के लगभग १६ साल बाद बढ़ते वज़न की वज़ह से ५१ साल की उम्र में उनकी मौत हो गयी | आज उनकी मौत को २५ बरस गुजर गयें | लेकिन उस वक्त भी उन्होंने इतनी फिल्में कर रखी थीं की मरने के ५ साल तक उनकी फिल्में रिलीज़ होती रहीं |

loading...
Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.